कांग्रेस का महिला विरोधी चेहरा सामने आया: निताशा, भाजपा नेत्री ने कांग्रेसी नेता के बयान पर कड़ी आपत्ति जताई

पीएमजी न्यूज़ ऐलनाबाद (सिरसा)

भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश मंत्री निताशा राकेश सिहाग ने कहा है कि लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी द्वारा राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के विरूद्ध स्तरहीन टिप्पणी की गई है। इस तरह की टिप्पणी से देश, संविधान, महिला और जनजाति समाज की गरिमा को ठेस पहुँची है। निताशा ने अधीर रंजन के बयान पर कड़ी आपत्ति जताते हुए मांग की है कि इसके लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी सहित पूरी पार्टी को देश से माफ़ी मांगनी चाहिए। वीरवार को मीडिया में जारी ब्यान में निताशा ने कहा कि इतिहास गवाह है कि कांग्रेस के मन में संविधान और महिलाओं के लिए कभी कोई सम्मान नहीं रहा है। कांग्रेस पार्टी को तत्काल माफी मांगनी चाहिए। कांग्रेस महिला और‌ आदिवासी विरोधी पार्टी है। कांग्रेस को आदिवासी राष्ट्रपति बर्दाश्त नहीं है। कांग्रेस ने राष्ट्रपति का मजाक उड़ाया है। जिस कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष स्वयं महिला है, उसके नेता द्वारा हमारी राष्ट्रपति के बारे में अशोभनीय टिप्पणी के लिए पार्टी द्रौपदी मुर्मू से माफी मांगें। यह अपमान अकेले मुर्मू का नहीं बल्कि राष्ट्रपति के अपमान के नाते देश को नीचे दिखाया है। जब से द्रौपदी मुर्मू का नाम राष्ट्रपति के उम्मीदवार के रूप में घोषित हुआ तब से ही द्रौपदी मुर्मू को कांग्रेस पार्टी ने घृणा और उपहास का शिकार बना रखा है। कांग्रेस पार्टी ने उन्हें कठपुतली तक कहा है जो अशोभनीय व असहनीय है। उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस आज भी इस बात को स्वीकार नहीं कर पा रही कि एक आदिवासी महिला इस देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद को सुशोभित कर रही हैं। बता दें कि सोनिया गांधी द्वारा लोकसभा में नियुक्त नेता सदन अधीर रंजन ने द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्र की पत्नी के रूप में संबोधित किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.