चौ. रणबीर विश्वविद्यालय में बदले नियम से होंगी परीक्षाएं, एक जुलाई से यूजी-पीजी अंतिम वर्ष का पेपर

PMG News Jind

Vinay Dahiya

चौ. रणबीर विश्वविद्यालय और उससे जुड़े जिले के डिग्री कालेजों में अंतिम वर्ष की परीक्षाएं एक जुलाई से होंगी और अंतिम सप्ताह में खत्म होंगी। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सेंटर पर भीड़ ना हो। इसके लिए जींद, नरवाना व सफीदों तीन बड़े राजकीय कॉलेजों में अधिकतम 300 विद्यार्थियों का सेंटर बनेगा और बाकी कॉलेजों में 200 विद्यार्थियों का सेंटर बनेगा। सुबह के सत्र में परीक्षा 9.30 से 12.30 बजे तक होगी




दूसरे सत्र में दो से पांच बजे तक परीक्षा होगी। जिसमें एक कमरे में 15 से 16 विद्यार्थी परीक्षा में बैठेंगे, फिजिकल डिस्टेंस बनाने के लिए विद्यार्थियों के बीच में एक बेंच खाली रहेगा। बगैर मास्क के विद्यार्थियों की परीक्षा केंद्र में एंट्री नहीं होगी और प्रत्येक परीक्षा से पहले सेंटर को सैनिटाइज किया जाएगा। विद्यार्थी अपने साथ पानी की बोतल और सैनिटाइजर ला सकते हैं। अंतिम वर्ष की रेगुलर विद्यार्थियों की परीक्षाएं खत्म होने के बाद रि-अपीयर की परीक्षाएं ली जाएंगी। जबकि प्रथम व द्वितीय वर्ष के विद्यार्थियों को अगली कक्षा में प्रमोट किया जाएगा और अगस्त में या स्थिति सामान्य होने पर इन कक्षाओं की परीक्षाएं ली जाएंगी।




पांच हजार रेगुलर व नौ हजार रि-अपीयर विद्यार्थी देंगे परीक्षा

सीआरएसयू और इससे जुड़े 16 सरकारी व गैर सरकारी कॉलेजों के यूजी (अंडर ग्रेजुएट) व पीजी (पोस्ट ग्रेजुएट) फाइनल वर्ष के करीब पांच हजार रेगुलर विद्यार्थी परीक्षा में बैठेंगे। वहीं नौ हजार विद्यार्थी अलग-अलग सेमेस्टर की रि-अपीयर विद्यार्थी परीक्षा देंगे। परीक्षा नियंत्रक डॉ. राजेश बंसल ने बताया कि परीक्षाओं के लिए पांच जून तक बिना लेट फीस के फार्म भरे जाएंगे। उसके बाद लेट फीस लगेगी। रेगुलर विद्यार्थी संबंधित कॉलेज के माध्यम से और रि-अपीयर वाले ऑनलाइन फार्म भर सकते हैं।



Leave a Reply

Your email address will not be published.