आरपीएस  इंजीनियरिंग कॉलेज  के विद्यार्थियों ने बनाया नो हेड नो टच सैनिटाइजर , कनीना नगर पालिका में भेंट की यह मशीन ।

PMG News Kanina

Inderjeet Sharma
नगर पालिका कनीना में आरपीएस एजुकेशन ग्रुप के चेयरमैन डॉक्टर ओपी यादव ने नो हैंड नो टच सैनिटाइजर मशीन नगर पालिका के चेयरमैन सतीश जैलदार को भेंट की  ।आरपीएस इंजीनियरिंग कॉलेज के विद्यार्थियों द्वारा बनाया गया नो हैंड नो टच सैनिटाइजर आजकल जिले में हर जगह एक चर्चा का विषय बना हुआ है । जहां एक तरफ पुलिस कर्मी, स्वास्थ्य कर्मी, समाजसेवी लगातार कोरोना वायरस से लड़ने के लिए लगे हुए हैं ।
वहीं दूसरी तरफ आरपीएस इंजीनियरिंग कॉलेज के विद्यार्थी भी एक नई सैनिटाइजर मशीन बना रहे हैं।
आरपीएस ग्रुप के चेयरमैन डॉक्टर ओपी यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि आरपीएस इंजीनियरिंग कॉलेज के विद्यार्थी लॉक डाउन में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए एक पैर से चलित मशीन बना रहे हैं । इस मशीन से यह फायदा है कि इसको पैर से टच करो और ऊपर से सैनिटाइज निकलेगा । जिससे बिना हाथ लगाए अपने हाथ को सैनिटाइज कर सकते हैं । वही चेयरमैन ओपी यादव ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि अभी तक हम इस तरीके की चार मशीन जिला उपायुक्त नारनौल को दे चुके हैं । दो मशीन एसपी कार्यालय दे चुके हैं । दो मशीन एसडीएम महेंद्रगढ़ कार्यालय दे चुके हैं । चार मशीन महेंद्रगढ़ राजकीय हॉस्पिटल में दे चुके हैं । दो मशीन पुलिस प्रशासन को दे चुके हैं । एक मशीन ब्रह्मदेव चौक पर लगाई हुई है । पांच मशीन बैंकों में दे चुके हैं । एक मार्केट कमेटी कनीना में दी है  ।एक एसडीएम कार्यालय कनीना तथा एक जुडिशल कार्यालय कनीना में दे रहे हैं । उन्होंने कहा कि कनीना में जहां भी जरूरत होगी हम वहां पर हम यह मशीन निशुल्क उपलब्ध करवा देंगे । डॉ यादव  ने आगे यह भी बताया कि हम एक रोबोट भी बना रहे हैं । यह रोबोट राजकीय हॉस्पिटलों में दिया जाएगा । इस रोबोट की खासियत यह है कि यह अपने आप दवाई मरीज तक पहुंचाएगा । अपने आप उनके हाथ सैनिटाइज करेगा ।  जिस तरह की कमांड इस रोबोट को दी जाएगी उसी तरह का एक कार्य करेगा ।
डॉ यादव ने कहां की उप नागरिक हॉस्पिटल कनीना में हम एक बड़ी मशीन गिफ्ट करेंगे । उप नागरिक हॉस्पिटल कनीना में रेगुलर बहुत सारे मरीज आते हैं । यह बड़ी मशीन मेन गेट पर लगा दी जाएगी।  जिससे अंदर आने वाला व्यक्ति पूरी तरीके से सैनिटाइज हो जाए । इससे बीमारियां फैलने  का खतरा कम होगा ।
गौरतलब है कि लोक डाउन के चलते आरपीएस कॉलेज ने प्रवासियों को रुकने के लिए जगह उपलब्ध करवाई थी तथा साथ ही उनको किसी प्रकार की कोई परेशानी ना हो इसके लिए आरपीएस ग्रुप में स्टाफ की ड्यूटी लगाई थी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.