ग्रामीण छात्रों की स्टडी के लिए 12 चैनल्स की घोषणा, ऑनलाइन  स्टडी कर सकेंगे गांवों के स्टूडेंट

PMG News New Delhi

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज से जुड़ी पांचवीं और आखिरी चरण की घोषणाएं की। उन्होंने सबसे पहले पीएम मोदी के भाषण का जिक्र किया जिसमें उन्होंने कोरोना को अवसर बनाने की बात की थी। उन्होंने कहा कि मोदी ने कहा था कि जान है तो जहान है। कोविड-19 को लेकर लागू लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन एजुकेशन को लेकर सरकार ने कई तरह के उपाय किए हैं। वित्त मंत्री ने तकनीकी आधारित शिक्षा को बढ़ावा देने की बात कही है, इनमें ऑनलाइन क्लासेज से लेकर और भी तमाम घोषणाएं की गईं.




कोविड-19 के लिए 15,000 करोड़ रुपये की घोषणा सरकार ने की थी। इसमें से 4,113 करोड़ रुपये राज्यों को रिलीज किए जा चुके हैं। शिक्षा के क्षेत्र में तकनीक के इस्तेमाल पर बोलीं निर्मला सीतारमण, दीक्षा के जरिए ई-कॉन्टेंट मुहैया करवाया जाएगा। वन क्लास, वन चैनल (पहली से 12वीं) की शुरुआत की जाएगी। रेडियो, कम्यूनिटी रेडियो से भी पढ़ाई में मदद ली जाएगी।

ऑनलाइन एजुकेशन को लेकर किये ये बड़े ऐलान

1. पीएम ई विद्या प्रोग्राम की शुरुआत

तकनीकी आधारित शिक्षा को बढ़ावा दिया जाएगा। पीएम ई विद्या प्रोग्राम की शुरुआत की जाएगी। यह ऑनलाइन एजुकेशन के लिए होगा। कक्षा 1 से 12वीं तक प्रति क्लास एक चैनल होगा। कोविड संकट में इंडस्ट्री को दिक्कत नहीं हो, इसका ध्यान रख रहे हैं। शिक्षा में बच्चे तकनीक के इस्तेमाल को पसंद कर रहे हैं। टीचर-स्टूडेंट्स के बीच लाइव सेशन किए जा रहे हैं। प्राइवेट डीटीएच प्रोवाइडर भी एजुकेशनल कंटेंट उपलब्ध करवा रहे हैं।



2. दिव्यांगों के लिए विशेष शिक्षा सामग्री

दिव्यांगों के लिए विशेष शिक्षा सामग्री तैयार की जाएगी। दिव्यांग बच्चों के लिए बेहतर गुणवत्ता वाला मटेरियल उपलब्ध करवाएंगे।100 टॉप यूनवर्सिटीज को ऑनलाइन पढ़ाई की इजाजत दी गई है।

3. वन नेशन वन डिजिटल प्रोग्राम

स्टूडेंट्स की स्टडी के लिए वन नेशन वन डिजिटल प्रोग्राम आएगा। 1 से 12 तक की कक्षाओं के लिए हर क्लास के लिए एक चैनल लॉन्च होगा। कम्युनिटी रेडियो का भी सदुपयोग किया जाएगा।

 

4. स्वयं प्रभा डीटीएच चैनलों और मनोदर्पण प्रोग्राम

मनोदर्पण नाम से प्रोग्राम चलाया जाएगा। सरकार ने स्वयं प्रभा डीटीएच चैनलों के जरिए ऐसे विद्यार्थियों को पढ़ाई जारी रखने में मदद की है, जिनके पास इंटरनेट की पहुंच नहीं है।

5. ग्रामीण छात्रों की स्टडी के लिए 12 चैनल्स की घोषणा

निर्मला सीतारमण ने बताया कि 12 नए चैनलों ई-क्लास होंगी। जरूरतमंद छात्र जिनपर इंटरनेट नहीं है वे स्वंय प्रभा डीटीएच सेवा से पढ़ सकते हैं। इसमें 12 नए चैनल जुड़ेगे । ई-पाठशाला में 200 नई पुस्तकें शामिल की गई हैं।



Leave a Reply

Your email address will not be published.