जींद में फायर ब्रिगेड कर्मचारी ने ट्रेन के आगे कूदकर की खुदकुशी, छोडा सुसाइड नोट

PMG News Jind

Vinay Dahiya




जींद में एक फायर ब्रिगेड कर्मी ने एसीपी न लगने से मानसिक रूप से परेशान होकर रेलगाड़ी के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली। मृतक फायर बिग्रेड कर्मी ने गांव घासो रेलवे स्टेशन के निकट रेलगाड़ी के आगे कूद कर आत्महत्या की
मृतक द्वारा छोड़े गए सुसाइड नोट में तीन अन्य फायर ब्रिगेड कर्मियों को मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया गया है।




रेलवे पुलिस ने सुसाइड नोट को आधार मानकर मृतक के भाई की शिकायत पर तीन फायर ब्रिगेड कर्मियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज कर लिया है। 50 वर्षिय गांव घासो खुर्द निवासी बलराज गांव के निकट से गुजरने वाली जींद फिरोजपुर रेलवे लाइन पर रेल गाड़ी के आगे कूद कर आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना पाकर रेलवे पुलिस मौके पर पहुंच गई और हालातों का जायजा लिया।
पुलिस ने मृतक की जेब से सुसाइड नोट बरामद किया, जिसमें बताया गया कि वह फायर ब्रिगेड में कार्यरत है। वह 6 जुलाई 2008 को जींद फायर ब्रिगेड में ड्यूटीरत था। उसकी दूसरी एसीपी 4 मार्च 2014 को डीसी ऑफिस में लगा दी थी। जिस पर उसके ही साथी कर्मचारियों ने डीसी ऑफिस को गुमराह करके एसीपी 2015 में कटवा दी। जिसके पीछे फायरमैन मामन राम, रामभगत तथा देवीप्रसन्न मुख्य रूप से शामिल है।



Leave a Reply

Your email address will not be published.