सुधार की तैयारी,  अधिकारी हर रोज 20-20 अभिभावकों को कॉल करके लेंगे फीडबैक

PMG News Fatehabad

लॉकडाउन के दौरान पिछले माह से राजकीय स्कूलों में पढ़ने वाले हजारों विद्यार्थियों को घरों में ही वाट्सएप व टीवी चैनलों से ऑनलाइन शिक्षा दी जा रही है। सभी विद्यार्थियों तक ऑनलाइन शिक्षा पूर्ण रुप से पहुंचे व बच्चों को दी जा रही ऑनलाइन शिक्षा के कार्य में आ रही समस्याओं को लेकर अब शिक्षा विभाग के अधिकारी हर रोज 20-20 अभिभावकों को कॉल करके उनका फीडबैक लेंगे। इसे लेकर शिक्षा विभाग ने पत्र जारी कर सभी कर्मचारियों व अधिकारी स्कूल मुखिया, बीआरपी, एबीआरसी, बीईओ, बीईईओ, फैकल्टी ऑफ डाइट, बाईट, जीईटीटीआई, एससीआरटी व प्रोग्राम ऑफिसर काे प्रतिदिन 20 अभिभावकों और विद्यार्थियों से फोन कर संपर्क करने के आदेश दिए हैं। जोकि प्रसारण कार्यक्रम को लेकर पठन-पाठन ऑनलाइन कार्यक्रम को लेकर अवलोकन करेंगे।




हर रोज भेजनी होगी रिपोर्ट

मई के महीने में सीएसआरटी द्वारा पाठ्यक्रम की मासिक बांट के अनुसार प्रत्येक विषय के दो से चार पाठ करवाए जाने हैं। इस पर्यवेक्षण के लिए जिलों के लिए निदेशालय का कार्यक्रम अधिकारी और सहायक निदेशक समय सारणी एवं अन्य दायित्वों के लिए उत्कर्ष सोसाइटी से समन्वय करेंगे। डीईओ, डीईईओ, डीपीसी व प्रधानाचार्य डाइट के संपर्क में रहेंगे। अधिकारियों को प्रतिदिन विद्यार्थियों की कक्षा अनुसार रिपोर्ट विभाग की ई-मेल पर सांझा करनी होगी।




ये सवाल पूछेंगे अधिकारी

क्या आपके बच्चे को अध्यापक से टीवी प्रसारण एजुसेट व स्वयं प्रभा की समय-सारिणी प्राप्त हो रही है।

क्या अध्यापक द्वारा ई-संचार माध्यम, फोन, मेल, वाट्सएप अथवा पड़ोसी सहपाठी के माध्यम से गृह कार्य अभ्यास कार्य दिया जा रहा है।

क्या आप द्वारा बच्चों को टीवी प्रसारण एजुसेट तथा स्वयं प्रभा चैनल देखने का समुचित समय एवं वातावरण प्रदान किया जा रहा है।



Leave a Reply

Your email address will not be published.