छोटे किसानों की फसल खरीद को दी जाएगी प्राथमिकता, खरीद के पहले दो दिन 25-25 किसानों की खरीदी जाएगी फसल

PMG News Sirsa

उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ान ने कहा कि प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार जिला के किसान की फसल का एक-एक दाना खरीदा जाएगा। फसल खरीद में भले ही थोड़ा समय लगे लेकिन किसी भी किसान की फसल बिना खरीद के नहीं रहने दी जाएगी। फसल खरीद के दौरान छोटे किसानों को प्राथमिकता दी जाएगी। किसान अपनी बारी अनुसार ही मंडी में फसल लेकर पहुंचे ताकि किसी प्रकार की भीड़ न हो।
उपायुक्त रमेश चंद्र बिढान व डीआईजी एवं पुलिस अधीक्षक डॉ. अरूण नेहरा रविवार को जिला की विभिन्न मंडियों व फसल खरीद के लिए बनाए अस्थाई केंद्रों का निरीक्षण कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने दूसरे राज्यों के साथ लगते पुलिस नाकों का भी निरीक्षण करते हुए जरूरी दिशा निर्देश दिए। इस दौरान एसडीएम जयवीर यादव, एसडीएम दिलबाग सिंह सहित संबंधित अधिकारी भी साथ रहे। उपायुक्त ने डेरा भूमणशाह के सत्संग हाल, तरकांवाली, चौपटा व गांव कागदाना में बनाए गए अस्थाई फसल खरीद केंद्र, डिंग मंडी, चौपटा मंडी, ऐलनाबाद सहित अन्य मंडियों व अस्थाई फसल खरीद स्थलों का निरीक्षण किया और अधिकारियों को सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए।

मंडियों व खरीद स्थलों को दिन में दो बार किया जाए सैनिटाइजः उपायुक्त
उपायुक्त रमेश चंद्र बिढान ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि कोरोना वायरस के फैलाव के मद्ड्ढदेनजर पूरी ऐहतियात बरती जाए और यह सुनिश्चित करें कि मंडियों व फसल खरीद स्थलों को दिन में दो बार पूरी तरह से सैनिटाइज किया जाए। सफाई व्यवस्था का पूरा ध्यान रखते हुए अस्थाई शौचालयों की भी व्यवस्था की जाए। इसके साथ-साथ मंडी में आने वाले किसानों व श्रमिकों को मॉस्क आदि उपलब्ध करवाएं। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन की पालना के तहत सोशल डिस्टेंस का विशेष ध्यान रखा जाए। खरीद केंद्रों पर पीने के पानी के साथ-साथ किसानों की सुविधाओं की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित हो। इस कार्य में संबंधित एसडीएम लगातार निगरानी रखे।


प्रशासन द्वारा निर्धारित सूची अनुसार ही किसानों को मंडी भेजें ठीकरी पहरेदार व सरपंचः उपायुक्त
उपायुक्त रमेश चंद्र बिढान ने कहा कि कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंस बहुत ही जरूरी है। इस कार्य में पंच-सरपंच सहित गांव में ठीकरी पहरा देने वाले सजग नागरिक सहयोग करते हुए सूची अनुसार ही किसानों को फसल लेकर मंडी में पहुंचने की अपील करें और दूसरों को इसके लिए प्रेरित करें, ताकि मंडी में अनावश्यक भीड़ एकत्रित न हो। उन्होंने कहा कि संबंधित एसडीएम सभी गांव में सरपंचों को फसल बिक्री के लिए निर्धारित किसानों की सूची उपलब्ध करवाएं तथा इसको चस्पा भी करवाएं। सरपंच गांव में इस बारे मुनादी भी करवाएं।

मनरेगा के माध्यम से मंडियों में करवाएं उठान आदि का कामः उपायुक्त
उपायुक्त रमेश चंद्र बिढान ने कहा कि मंडियों व खरीद स्थलों पर फसल उठान आदि के कार्य के लिए मनरेगा मजदूरों से काम लिया जाएगा। इस बारे पंच व सरपंच मनरेगा मजदूरों का मंडियों में कार्य के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि मंडी में किया गया कार्य मजदूरों के नरेगा के तहत सौ दिन के कार्य में शामिल नहीं किया जाएगा, बल्कि इसका अलग से मेहनताना दिया जाएगा। उपायुक्त ने अपील करते हुए कहा कि यह संकट की घड़ी है, कोरोना वायरस की चुनौती का सामना व लॉकडाउन की पालना के लिए हम सबको सामूहिक रूप से कार्य करना है। इसलिए सभी नागरिक जिला प्रशासन के साथ पूर्ण सहयोग करते हुए अपना हर संभव योगदान दें।




ठीकरी पहरे के दौरान सजग रहते हुए करें कोरोना वायरस के बचाव बारे प्रेरितः उपायुक्त
उपायुक्त रमेश चंद्र बिढान ने मंडियों के निरीक्षण के दौरान कई गांवों में ठीकरी पहरा दे रहे लोगों से भी बातचीत की। उन्होंने कहा कि गांव में किसी भी बाहरी व्यक्ति को प्रवेश न करने दें। गांव के आने-जाने वाले व्यक्ति पर भी पूरी नजर रखते हुए विशेषकर युवाओं को सावधानी बरतनें के लिए प्रेरित करें। उन्होंने सरपंच तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों से कहा कि वे ग्रामीणों को कोरोना वायरस के बचाव व लॉकडाउन की अनुपालना बारे जागरूक करें। कोरोना वायरस से बचाव के लिए लगाया गया लॉकडाउन आमजन की भलाई के लिए है, इसलिए प्रशासन द्वारा बताई गई सावधानियों व हिदायतों की गंभीरता से अनुपालना करें। लॉकडाउन की सफलता ही इस महामारी के विनाश का आधार बनेगी।




Leave a Reply

Your email address will not be published.