कोरोना संकट में नोहर विधायक अमित चाचाण ने जरूरतमंदों के लिए खोला विधायक कोष, अब तक दे चुके 48 लाख रूपए

PMG News Nohar

Vakil Fefana



कोरोना संक्रमण को रोकने को लेकर सरकार द्वारा लागू किए लॉकडाउन में कोई व्यक्ति भूखा ना सोए। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की इस मंशा को साकार करते हुए नोहर विधायक अमित चाचाण ने जरूरतमंदों के लिए विधायक कोष ही खोल दिया है। श्री चाचाण ने विधायक कोष से कुल 48 लाख रूपए जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध करवाना दिए हैं। इसके अलावा एक महीने की सैलरी 40 हजार रूपए भी मुख्मयंत्री सहायता कोष में जमा करवा चुके हैं। श्री चाचाण ने शनिवार को जिला कलक्टर जाकिर हुसैन को पत्र लिखकर विधायक कोष से कुल 30 लाख रूपए जरूरतमंदों को खाने के पैकेट और खाद्य सामग्री हेतु अभिशंसा की। जिसमें नोहर के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र के लिए दस-दस लाख रूपए और रावतसर पंचायत समिति के अंतर्गत पल्लू क्षेत्र की 14 ग्राम पंचायतों के जरूरतमंद लोगों के लिए 10 लाख रूपए की अनुशंसा की गई है।


सीईओ जिला परिषद परशुराम धानका ने बताया कि इससे पहले नोहर विधायक श्री चाचाण विधायक कोष से 18 लाख रूपए कोरोना संकट के मद्देनजर स्वास्थ्य उपकरण खरीदने और जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध करवाने को लेकर दे चुके हैं। जिसमें 23 मार्च को 1 लाख रूपए नोहर सीएचसी में मास्क और सैनेटाइजर खरीद के लिए, 29 मार्च को 5 लाख रूपए नोहर चिकित्सालय में जांच, परीक्षण और अन्य सुविधाएं के लिए, 29 मार्च को ही 5-5 लाख रूपए नोहर के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र के जरूरतमंद लोगों के लिए खाने के पैकेट और खाद्य सामग्री देने के लिए दे चुके हैं। उसके बाद 1 अप्रैल को जिला चिकित्सालय में चिकित्सा उपकरण और रखरखाव व विस्तार के लिए दो लाख रूपए विधायक कोष से दिए। कुल मिलाकर कोरोना संकट को देखते हुए नोहर विधायक श्री अमित चाचाण विधायक कोष से अब तक 48 लाख रूपए और अपनी एक महीने की 40 हजार की सैलरी मुख्यमंत्री सहायता कोष में दे चुके हैं।



Leave a Reply

Your email address will not be published.