KUK प्रदेश के चार लाख विद्यार्थियों की परीक्षा ताले में बंद, मंगलवार को उच्चतर शिक्षा विभाग के साथ हुई बैठक में नहीं निकला कोई फैसला

PMG News Kurukshetra

Vijay Haryanvi

प्रदेशभर के चार लाख विद्यार्थियों की परीक्षा लेने वाली कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी की परीक्षा शाखा पर लॉकडाउन शुरू होने के बाद से ही ताला लटका है। ऐसे में प्रदेशभर के विद्यार्थियों को अपनी अप्रैल, मई और जून में होने वाली परीक्षाओं को लेकर चिंता सता रही है। विद्यार्थियों की परीक्षाओं को लेकर चल रहे सस्पेंस से अगले सप्ताह पर्दा उठ सकता है। उच्चतर शिक्षा विभाग अगले सप्ताह प्रदेश की सभी यूनिवर्सिटी के कुलपतियों के साथ परीक्षाओं को लेकर बैठक करेगा। मंगलवार को भी उच्चतर शिक्षा विभाग की ओर से सभी कुलपतियों और परीक्षा शाखा कंट्रोलर की बैठक ली गई थी, लेकिन बैठक में लॉकडाउन खुलने की स्थिति साफ न होने पर परीक्षाओं के शेड्यूल पर कोई फैसला नहीं लिया जा सका था। अब अगले सप्ताह उच्चतर शिक्षा विभाग दोबारा प्रदेशभर की यूनिवर्सिटी के कुलपतियों और परीक्षा शाखा कंट्रोलर के साथ बैठक हो सकती है। वहीं अगले सप्ताह ही 14 अप्रैल को देशभर में घोषित 21 दिनों के लॉकडाउन की अवधि भी पूरी होगी। इसके बाद ही परीक्षा को लेकर तस्वीर साफ हो पाएगी।



बंद परीक्षा शाखा ने पहले ही तैयार करवाए पेपर

परीक्षा शाखा के कंट्रोलर डॉ. हुकम सिंह ने बताया कि लॉकडाउन के चलते भले ही परीक्षा शाखा के बाहर ताला लगा है, लेकिन परीक्षा शाखा ने विद्यार्थियों की परीक्षा को लेकर अपनी तैयारी लॉकडाउन से पहले ही पूरी कर ली थी। परीक्षा शाखा के पास उत्तर पुस्तिकाओं के स्टॉक के साथ ही सभी कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए प्रश्न पत्र भी तैयार हैं। ऐसे में अगर लॉकडाउन 14 अप्रैल के बाद खुलता है तो परीक्षा शाखा विद्यार्थियों की परीक्षा पूरी तरह से तैयार है।



मार्च व अप्रैल में नहीं लग पाई विद्यार्थियों की कक्षाएं

मार्च और अप्रैल का माह स्नातक और स्नातकोत्तर के विद्यार्थियों का सिलेबस पूरा करवाने के लिए अहम रहता है। इस बार मार्च और अप्रैल में कोरोना वायरस के कारण कक्षाएं नहीं लग पाई। ऑनलाइन पढ़ाकर शिक्षक सिलेबस पूरा करवाने में जुटे हैं। केयू की डीन एकेडमिक अफेयर प्रो. मंजुला चौधरी ने बताया कि सभी शिक्षकों को ऑनलाइन कक्षाएं लेकर पूरा सिलेबस कवर करवाने के निर्देश दिए हैं। थ्योरी के साथ ही जो असाइनमेंट या प्रेक्टिकल ऑनलाइन हो सकते हैं, उन्हें भी ऑनलाइन करवाने को कहा है।




केयू की परीक्षाओं का यह था शेड्यूल

आठ अप्रैल से दूरवर्ती व प्राइवेट की वार्षिक परीक्षाएं होनी थी। 20 अप्रैल से अंडर ग्रेजुएट की छठे सेमेस्टर की परीक्षाएं शुरू होनी थी। एक मई से यूजी के दूसरे व चौथे सेमेस्टर और पीजी की सेमेस्टर परीक्षाएं शुरू होनी थी। इस शेड्यूल को कोरोना वायरस के कारण फिलहाल स्थगित किया गया है। केयू कुलपति डॉ. नीता खन्ना ने बताया कि उच्चतर शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार ही परीक्षा होगी। उन्होंने बताया कि सभी यूनिवर्सिटी के कुलपतियों की उच्चतर शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक होनी है।



Leave a Reply

Your email address will not be published.