पुलिस मुठभेड़ में वांछित अपराधी संदीप उर्फ डीसी गिरफ्तार, करीब 9 आपराधिक मामलों में चल रहा था फरार

PMG News Rohtak

रोहतक पुलिस ने बहादुरी व तत्परता से कार्यवाही करते हुए वांछित अपराधी संदीप उर्फ डीसी को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। पुलिस मुठभेड़ में दोनो तरफ से दो-दो फॉयर हुए है। मुठभेड़ में पैर में गोली लगने से आरोपी घायल हुआ है जिसे इलाज के लिए अस्पताल में दाखिल कराया गया है। आरोपी के खिलाफ हत्या का प्रयास, मारपीट, जान से मारने की धमकी देने, कार लूट, गिरोह बंदी आदि के मामलें दर्ज है। दो मामलों में आरोपी उद्घोषित अपराधी घोषित है। मामलें की गहनता से जांच की जा रही है।
उप पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) श्री गोरख पाल ने बताया कि प्रभारी थाना महम निरीक्षक नवीन जाखड़ ने निन्दाना गांव में चल रही गैंगवारों पर अंकुश लगाने के लिए विशेष टीम का गठन किया था। दिनांक 17.03.2020 की शाम को विशेष टीम को सूचना मिली कि वांछित अपराधी संदीप उर्फ डीसी निवासी गांव निन्दाना मोटरसाईकिल पर सवार होकर निन्दाना-फरमाणा रोड़ पर खड़ा है। सूचना पर तुरंत कार्यवाही करते हुए स.उप.नि. विनोद कुमार के नेतृत्व में थाना महम व सीआईए-1 की संयुक्त टीम का गठन कर छापेमारी के लिए रवाना किया गया। पुलिस टीम निन्दाना-फरमाणा रोड पर पहुंची तो मोटरसाईकिल पर एक संदिग्ध युवक दिखाई दिया। पुलिस टीम को देखते ही युवक ने पुलिस पर पिस्तौल तान दी तथा मोटरसाईकिल स्टार्ट करके भागने की कोशिश करने लगा। पुलिस टीम ने युवक को चेतावनी देते हुए आत्मसमर्पण करने के लिए अनुरोध किया। युवक ने जान से मारने की नीयत से पुलिस टीम पर फॉयर कर दिया। स.उप.नि. विनोद कुमार ने बचाव करते हुए युवक को पुनः चेतावनी देते हुए हवाई फॉयर किया। युवक ने स.उप.नि. विनोद कुमार पर दौबारा से फॉयर किया। स.उप.नि. विनोद कुमार ने बचाव करते हुए युवक के पैरों की तरफ फॉयर किया। जो गोली युवक के पैर में लगी जिससे युवक घायल होकर मौके पर ही गिर गया। पुलिस टीम ने बहादुरी व तत्परता से कार्यवाही करते हुए युवक को पिस्तौल सहित काबू किया है। पुछताछ पर युवक की पहचान संदीप उर्फ डीसी पुत्र दिलबाग निवासी गांव निन्दाना (रोहतक) के रुप में हुई है। युवक को इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया। युवक से बरामद पिस्तौल व मोटरसाईकिल को कब्जा पुलिस में लिया गया। युवक के खिलाफ धारा 307/353/186 भा.द.स. व शस्त्र अधिनियम के तहत अभियोग संख्या 108/2020 अंकित किया गया है। युवक का पीजीआईएमएस रोहतक में इलाज चल रहा है।
प्रारंभिक जांच में सामने आया कि आरोपी संदीप उर्फ डीसी उम्र 30 साल 10वीं कक्षा पास है। आरोपी संदीप उर्फ डीसी का उसके गांव के रहने वाले गब्धू व उसके भाई के साथ कई सालों पहले झगड़ा हुआ था। उसी रंजिश के तहत दोनो गुटों के साथ लगातार झगड़े होते गए जिसमें दोनो पक्षों के खिलाफ थाना महम में कई आपराधिक मामलें दर्ज है। आरोपी कई महीने से फरार चल रहा था जिसे गिरफ्तार करने के कई प्रयास किए गए। आरोपी के कई साथी पहले ही गिरफ्तार हो चुके है तथा कुछ आरोपी फरार चल रहे जिन्हें गिरफ्तार करने के प्रयास किए जा रहे है।



अपराधी का पुराना अपराधिक रिकार्डः-
1. आरोपी ने दिनांक 18.12.14 को निन्दाना निवासी युवक के साथ मारपीट की वारदात को अंजाम दिया है जिस संदर्भ में धारा 323/325 भा.द.स. के तहत थाना महम में अभियोग संख्या 408/14 अंकित है।
2. दिनांक 28.07.17 को आरोपी संदीप उर्फ डीसी अपने साथियों संदीप उर्फ बंटी, अनुज उर्फ ढीला व शुभम उर्फ अतुल के साथ दो मोटरसाईकिलों पर सवार होकर फरमाणा रोड माईनर के पास लूट की वारदात देने के नीयत से हथियारों सहित खड़े थे जिन्हें रोहतक पुलिस द्वारा काबू किया गया था। जिस संदर्भ में थाना 398/401 भा.द.स. व शस्त्र अधिनियम के तहत अभियोग संख्या 435/17 अंकित है।
3. दिनांक 10.06.18 को आरोपी संदीप उर्फ डीसी ने अपने साथियों के साथ मिलकर गांव निन्दाना निवासी तकदीर को चोटे मारी थी। जिस संदर्भ में थाना महम में धारा 148/149/323 भा.द.स. के तहत अभियोग संख्या 370/18 अंकित है। आरोपी अदालत से जमानत पर आने के बाद फरार चल रहा था। जिस संदर्भ में आरोपी के खिलाफ धारा 174ए भा.द.स. के तहत अभियोग संख्या 64/2020 अंकित है।
4. दिनांक 10.07.18 को आरोपी संदीप उर्फ डीसी ने अपने साथियों के साथ मिलकर गांव निन्दाना निवासी सत्यनारायण को हथियार के बल पर जान से मारने की धमकी दी तथा मौके से फरार हो गया। जिस संदर्भ में थाना महम में धारा 148/149/506 भा.द.स. व शस्त्र अधिनियम के तहत अभियोग संख्या 439/18 अंकित है। जिसमें आरोपी अदालत से जमानत पर आने के बाद फरार चल रहा था। जिस संदर्भ में आरोपी के खिलाफ धारा 174ए भा.द.स. के तहत अभियोग संख्या 53/19 अंकित है।
5. दिनांक 08/09 दिसंबर 2018 की रात को आरोपी संदीप उर्फ डीसी ने गाड़ी में सवार होकर गांव खरक जाटान के अड्डा पर आल्टो कार को टक्कर मारी। कार में बैंसी निवासी राहुल व गांव निन्दान निवासी अमित बैठे हुए थे। आरोपियों ने जबरदस्ती युवकों से कार छीन ली तथा मौके से फरार हो गए। जिस संदर्भ में थाना लाखनमाजरा में अभियोग संख्या 305/18 अंकित है।
6. दिनांक 18.08.19 को आरोपी संदीप उर्फ डीसी ने अपने साथियों के साथ मिलकर गांव निन्दाना निवासी अनिल के साथ मारपीट की जिस संदर्भ में धारा 323/341/342/506/34 भा.द.स. के तहत थाना महम में अभियोग संख्या 467/19 अंकित है।
7. आरोपी ने दिनांक 31.01.2020 को शाम के समय गांव निन्दाना के खेतों में गांव निन्दाना निवासी जयभगवान को जान से मारने की नीयत से गोली मारी थी। जिस संदर्भ में धारा 307/34 भा.द.स. व शस्त्र अधिनियम के तहत थाना महम में अभियोग संख्या 31/2020 अंकित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.